अच्छे बच्चे हिन्दी कविता- Hindi poem

Acche bache hindi poem

अच्छे बच्चे हिन्दी कविता- Hindi poem | अच्छे बच्चे सभी को प्यारे लगते हैं सभी बच्चो को अपने मम्मी पापा और बडो का कहना मानना चाहिए और उनकी इज्जत करनी चाहिए | बच्चो इस पोएम के माध्यम से हम जानेंगे की अच्छे बच्चे केसे होते हैं वह क्या करते हैं और क्या नही ताकि हम भी वही चीज़ करें और अच्छे बच्चे बन जाएँ |

अच्छे बच्चे पोएम – Hindi poem For Kids

जो होते हैं अच्छे बच्चे,
काम वो करते अच्छे अच्छे |
मम्मी पापा का कहा मानते,
बुरे काम वो नहीं जानते |
सुबह सवेरे जल्दी उठते ,
रात को जल्दी सोने चलते |
होम वर्क वो समय से करते ,
सभी टीचर की इज्ज़त करते |
हमेशा अच्छा अच्छा बोलते ,
झूठ नहीं सच्च बोलते |
बच्चो तुम भी अच्छे बन जाओ
और सभी के मनन को भाओ |

Acche bache hindi  poem
अच्छे बच्चे पोएम

English font

Acche bacche
Jo hote hain acche bacche,
kaam vo karte acche acche.
Mummy kpapa ka khaa maante,
Bure kaam vo nahi jante.
subah savere jaldi uthte,
raat ko jaldi sone chalte.
Home work vo samay se karte,
Tabhi to teacher se nhi darte.
hamesha accha accha bolte,
jhoot nhi saccha bolte.
baccho tum bhi achey ban jao,
Aur sabhi ke mann ko bhao.

लड़ना झगड़ना है बुरा – अच्छे बच्चे हिन्दी कविता

चिंटू मिंटू थे दो भाई ,
करते रहते हर वक्त लड़ाई |
एक दिन मम्मी ने पास बुलाया ,
दोनों को प्यार से समझाया |
लड़ना-झगड़ना बहुत बुरा है ,
लड़ने का अंजाम बुरा है
दोनों को बात समझ में आई
फिर नहीं की कभी लड़ाई |

( 30 Birds name in Hindi & English with pictures )

English font

Chintu Mintu the do bhai ,
karte rehte har waqt ladayi |
ek din mummy ne paas bulaya ,
dono ko pyaar se samjhaya |
ladna-jhagadna bahut bura hai,
ladne ka anjaam bura hai |
dono ko baat samajh mein aayi ,
fir nahi ki kabhi ladai |

बच्चो के लिए हिन्दी पोएमक्लिक करें

गुब्बारे – हिन्दी पोएम

गुब्बारे हिन्दी पोएम | बच्चो के लिए हिन्दी पोएम | छोटे बच्चे को गुब्बारे बहुत पसंद आते हैं | रंग बिरंगे गुब्बारे बच्चो को बड़ा लुभाते हैं | इस पोएम के माध्यम से बच्चे कविता जल्दी सीखेंगे और मजे से याद करेंगे | यह कविता हिन्दी के मशहुर कवि हरिवंश राय बच्चन जी द्वारा लिखी गई है | ( बंदर की शादी पोएम )

गुब्बारों का लेकर ढेर ,
देखो , आया है शमशेर |
हरे , बेंगनी , लाल , सफेद ,
रंगो के हैं कितने भेद |
कोई लम्बा, कोई गोल ,
लाओ पैसे , ले लो मोल |
मुटठी मे ले लो इनकी डोर,
इन्हें घुमाओ चारो और |
हाथों से दो इन्हें उछाल,
लेकिन छूना खूब संभाल |
पड़ा किसी के उपर जोर ,
एक जोर का होगा शोर |
गुब्बारा फट जायेगा ,
खेल खत्म हो जाएगा |
– हरिवंशराय बच्चन

English Font

Gubbaro ka lekr dhair,
dekho aaya hai shamshair
Hare, bengni, Lal , Safed,
Rango ke hain kitne bhaid
koi lmba, koi gol,
Lao paise le lo mol.
Muthi me le lo inki Dor,
inhe ghumao charo aur.
Hatho se do inhe uchal,
lekin chhuna khub smbhal.
Pda kisi ke upr zor,
Aik zor ka hoga shhor.
Gubbara fat jayega,
khail khtam ho jayega. ( Fruits name with Pic )

ऐसे ही और अच्छी कविता पढने के लिए क्लिक करें – बच्चो के लिए हिन्दी पोएम

पेड हिन्दी कविता – बच्चो के लिए हिन्दी कविता

save tree poem

पेड हिन्दी कविता – बच्चो के लिए हिन्दी कविता | पेड़ो का हमारे जीवन मे बहुत महत्वपूर्ण हैं | यह हमे ऑक्सीजन , शुद्ध वायु , फल , छाँव आदि देते हैं | हमे ज्यादा से ज्यादा पेड लगाने चाहिए | यदि पेड खतम हो जायेंगे तो हमारा जीवन खतरे मे पड़ जायेगा | इस कविता के माध्यम से बच्चो को पेड़ो का महत्व बताया गया है |

हरे- भरे ये पेड बड़े ,
हरदम रहते ये खड़े ,
बारिश में ये खूब नहाते ,
डाली – डाली फूल खिलाते |
तेज़ धूप से हमें बचाते ,
हम छाया में इनकी सुस्ताते,
मीठे फल ये हमें खिलाते ,
परोपकार का पाठ सिखाते |

English Font

Hare- Bhare ye paid bde,
hardum rehte ye khde,
baarish me ye khub nhate,
daali – daali phool khilate.
Tez dhup se Hume bchate,
hum Chahya me inki sustate.
Mithe fal ye hume khilate,
Propkar kaa path sikhate

Save Trees Hindi Poem-Save Life

हमारे जीवन में पेड़ों का महत्व बहुत ही जरूरी है। यदि पेड़ नहीं होंगे तो हम अपने जीवन की कल्पना भी नहीं कर सकते हैं। पेड़ों का हमारे जीवन में बहुत ही महत्व हैं। इसके महत्व को हम कभी चुका सकते हैं। पेड़ वो सब कुछ चीजें हमें देते हैं जो हमें जीने के लिए अति आवश्यक होती है जैसे रहने के लिए घर, खाने के लिए फल, पेड़ों से ही बारिश होती हैं। बारिश का हमारे जीवन में कितना महत्व होता है। ये भी पेड़ों से ही होती हैं। ( 25 fruits name )

पेड़ो की कमी से होने वाले नुकसान –

पेड़ों की कमी से क्या क्या नुकसान हो रहे हैं वो कुछ इस प्रकार हैं:

  • वृक्षों ( पेड़ो ) की कमी के कारण वातावरण में कई प्रकार का प्रदुषण बढ़ रहा है। इस प्रदुषण से बहुत सारी गम्भीर बीमारियां पैदा हो रही है।
  • पेड़ों की लगातार कटाई से पृथ्वी का तापमान भी बहुत तेजी से बढ़ रहा है। इसके कारण भूकंप और सुनामी जैसी आपदाएं आनी शुरू हो गई है।
  • पेड़ों की कमी के कारण सही से बारिश भी नहीं हो रही है। कई जगह पर अधिक वर्षा हो रही है तो कई जगह पर सूखा पड़ रहा है।
  • पेड़ों की कमी के कारण शांत पड़े ज्वालामुखी भी सक्रिय होना शुरू हो गये है।
  • वृक्षों के कटान की वजह से हरियाली कम हो रही है और और रेगिस्तेतान जी से बढ़ रहा है।
  • पेड़ों की कमी के कारण कई सारी जानवरों की प्रजातियां भी विलुप्त हो गई है और कुछ तो विलुप्त होने के कगार पर है।

बंदर की शादी – बच्चो के लिए हिन्दी पोएम

हिन्दी पोएम – बंदर की शादी | बच्चो के लिए बनाई हुई मज़ेदार पोएम | हिन्दी व अंग्रेजी मे फलो के नाम जानने के लिए क्लिक करें – फलो के नाम

बंदर की शादी
हम तो बंदर की शादी मे जायेंगे ,
खूब मस्ती करेंगे , धूम मचाएंगे |
कुत्ता भैय्या आएगा , सीक कबाब लायेगा ,
प्यार से वो बोलेगा , भों .. भो …भों ..|

हम तो बंदर की शादी मे जायेंगे ,
खूब मस्ती करेंगे , धूम मचाएंगे |
बिल्ली मौसी आएगी , रसमलाई लाएगी ,
प्यार से वो बोलेगी , मियाऊ मियाऊ मियाऊ |

हम तो बंदर की शादी मे जायेंगे ,
खूब मस्ती करेंगे , धूम मचाएंगे |
चिड़िया रानी आएगी , दाल का दाना लाएगी ,
प्यार से वो बोलेगी , ची …ची …ची |

हम तो बंदर की शादी मे जायेंगे ,
खूब मस्ती करेंगे , धूम मचाएंगे |
शेर दादा आएगा , मॉस का टुकड़ा लाएगा ,
प्यार से वो बोलेगा , गुर्र.. गुर्र… गुर्र,, |

ऐसे ही और मज़ेदार हिन्दी कवितायेँ पढने के लिए क्लिक करें हिन्दी पोएम

मेरी गुडिया पोएम

मेरी गुडिया पोएम | Hindi poem for kids: Meri gudiya hindi poem बच्चो के लिये बनाई हुई आसन Hindi poem जेसे की छोटे बच्चे गुड्डे गुडिया से अधिक लगाव रखते हैं तो वह इस poem से एक जुडाव महसूस करेंगे|

मेरी गुडिया पोएम

डॉक्टर देखो अच्छी तराह,
मेरी गुड़िया रही कराह |
कल बरसा था छम छम पानी|
उसमे भीगी गुड़िया रानी
डॉक्टर डॉक्टर दे दो पुड़िया,
ले जाति हूं अपनी गुड़िया,
जब तक उतरे नहीं बुखार
तब तक पैसे रहे उधार |

funny Hindi poem for kidsहास्य कविता

meri gudiya-Hindi poem
meri gudiya-Hindi poem

English Font

Doctor dekho Achi Traah,
Meri gudiya Rahi Kraah.
kal barsa tha chham chham pani,
usme bhigi gudiya rani.
doctor doctor de do pudiya,
le jati hun apni gudiya,
jab tak utrey nhi bhukar,
Tab tak paise rhe udhar

इस प्रकार की मनोरंजक कविताएँ , हिन्दी कहानियां आदि पढने के लिए वेबसाइट के होम पेज पर जाएँ |बच्चो के लिए हिन्दी कहानियां ,कविताएँ , इंग्लिश पोएम , इंग्लिश story आदि सभी आपको इस website पर मिल जाएँगी | इस website को बुकमार्क करलें ताकि आपको आसानी से हमारी website मिल जाये | कमेंट करके बताएं आपको यह पोएम केसी लगी और अन्य तरह की पोएम के लिए आप कमेंट करके हमे बता सकते हैं |

बच्चो के लिए हिन्दी पोएम – पढने के लिए क्लिक करें

चूहा बिल्ली हिन्दी पोएम | Chuha Billi Hindi Poem

cat mouse Hindi poem

चूहा बिल्ली हिन्दी पोएम | बच्चो के लिए बनायीं हुई आसन भाषा में हिंदी poem. चूहे और खरगोश की हिंदी poem| इस poem में हिंदी और इंग्लिश दोनों lyrics दिये गये हैं ताकि पढने वालो को कोई परेशानी न हो |

जब चूहा बोला बिल्ली से |

चूहा बोला बिल्ली से,
क्या तुम आई हो दिल्ली से?
बिल्ली बोली नहीं भाई,
आओ खिलाऊं तुम्हें मिठाई |
चूहा बोला नहीं बहना,
कृप्या मुझसे दूर ही रहना |

बिल्ली की कहानीक्लिक करें

चूहा बिल्ली हिन्दी पोएम

kids poem
billi chuha Hindi poem | बिल्ली चूहा कविता |

English font

Chuha bola billi se,
kya tum aayi ho Dilli se ?
billi boli nahi bhai,
aao khilaun tumhe mithayi |
chuha bola nahi behna ,
kripya mujhse dur hi rehna |

बिल्ली चूहा पोएम | Cat Mouse Hindi Poem |

एक बिल्ली थी बड़ी सायानी

चूहे देख मुह में भरती पानी

एक दिन बोली चूहे भाई

आओ खिलाओं तुम्हे मलाई

चूहा बोला रहने दो ताई

हमको नही खानी मलाई

यह कह कर दोडा बिल के अन्दर

चूहे ने अपनी जान बचाई |

English font

EK billi thi badi Sayani

Chuhe dekh muh me bharti pani

Ek din boli chuhe bhai

Aao khilaun tumhe Malayi

chuha bola rehne do Tayi

humko nhi khani Malayi

Yeh keh kar doda bill ke andar

Chuhe ne apni jaan Bachayi.

यह चूहे और बिल्ली की हिंदी poem है छोटे बच्चो के लिए बनाई गयी है | यह इतनी आसान और साधारण शब्दों में लिखी गयी है की बच्चा इसे आसानी से पढ़ भी सकता है और याद भी कर सकता है | आपको ये poem केसी लगी comment करके बताएं ऐसे ही और poem के लिए home बटन पर poem section पर click करें | fruits name

बच्चो के लिए हिन्दी कविता क्लिक करें

बच्चो के लिए पोएम | Baccho ki poem

Hindi poem for kids

बच्चो के लिए पोएम | छोटे बच्चो के लिए हिन्दी पोएम |

मेरी गुडिया पोएम | Hindi poem for kids|

बच्हिचो की हिन्दी  पोएम
Doll Hindi Poem

डॉक्टर देखो अच्छी तराह,
मेरी गुड़िया रही कराह |
कल बरसा था छम छम पानी|
उसमे भीगी गुड़िया रानी
डॉक्टर डॉक्टर दे दो पुड़िया,
ले जाति हूं अपनी गुड़िया,
जब तक उतरे नहीं बुखार
तब तक पैसे रहे उधार |

प्यारे बच्चो पोएम |

कलियाँ कहती प्यारे बच्चो,
सीखो तुम मुस्कुराना
रंग बिरंगे फूल सिखाते
हँसना और हँसाना |
कोयल कहती मीठा बोलो,
गाओ मीठा गाना |
दीदी कहती सीखो बच्चो
पढ़ना और पढाना |

बच्चो के लिए अन्य दूसरी हिन्दी कविता पढने के लिए – क्लिक करें

चूहा और बिल्ली हिंदी पोएम |Baccho ki poem

baccho ki poem
baccho ki poem | चूहा और बिल्ली की पोएम |

चूहा बोला बिल्ली से,
क्या तुम आई हो दिल्ली से?
बिल्ली बोली नहीं भाई,
आओ खिलाऊं तुम्हें मिठाई |
चूहा बोला नहीं बहना,
कृप्या मुझसे दूर ही रहना |

25 फलो के नाम | 25 fruits name |

खरगोश पोएम | बच्चो के लिए पोएम

एक जंगल में था खरगोश,
एक दिन हो गया वो बेहोश |
उसे बचाने बंदर आया,
साथ में अपने डॉक्टर लाया।
डॉक्टर ने उसे सुईं लगायी,
तब खरगोश को होश आई |

मछली रानी हिन्दी कविता | Hindi Poem for kids

मछली पानी की महारानी,
चारो ओर है इसके पानी |
इसको है पानी ही भाता,
बाहर ना इससे रहा जाता |
पानी में ही खुश ये रहती ,
पानी से बाहर जिंदा ना रहती |

बच्चो के लिए हिन्दी कहानियां – क्लिक करें

भालू पर पोएम | बच्चो के लिए पोएम

भालू आया भालू आया,
साथ में अपने चूरन लिया |
उसका चूरन बड़ा ही स्वादु ,
जिसको खाते हाथी दादू |
भालू का चूरन शेर को भी भाया ,
ख़ूब मज़े से सबने खाया |

आपको यह पोस्ट केसी लगी निचे कमेंट करके अपनी रायें बताएं और जिस विषय पर आपको पोएम या story चाहिए वह भी आप बता सकते हैं |

Hindi poem on mother for kids | मेरी माँ

Hindi-kavita-for-kids-poem-for-mom

Hindi poem on mother for kids | एक छोटी सी सुंदर कविता माँ पर | यह कविता छोटे बच्चो के लिए हैं | छोटे माँ और बच्चो का रिश्ता सबसे प्यारा होता है | बच्चे सबसे ज्यादा प्यार अपनी माँ से करते हैं वही माँ भी बच्चो के लिए सारे संसार से लड़ जाती हैं | इस कविता मे बच्चा अपनी माँ के लिए प्यार का इज़हार कर रहा है |

Hindi poem on Mother for kids
Hindi poem on Mother

मेरी माँ पर कविता बच्चो के लिए |

मेरी मम्मी , प्यारी मम्मी ,

दुनिया भर से न्यारी मम्मी |

ममता की मूरत मेरी मम्मी ,

सुन्दरता में अव्वल मेरी मम्मी |

मेरी मम्मी सा नही कोई प्यारा,

में हूँ उनका राज दुलारा |

सबसे सुन्दर सबसे अच्छी ,

सबसे अलग है मेरी मम्मी |

( अच्छे बच्चे कहलाते हैं – हिन्दी पोएम )

माँ बिना जीवन है अधूरा – माँ पर कविता

माँ बिना जीवन है अधूरा
खाली -खाली सूना-सूना ,
खाना पहले हमे खिलाती हैं
बाद में वह खुद खाती हैं ,
हमारी ख़ुशी मे खुश हो जाती
दुख में हमारे आंसू बहाती
कितने खुशनसीब हैं हम
पास हमारे हैं माँ |

Hindi Kavita for kidsfunny Hindi poem

माँ पर कविता | Hindi poem for mother |

English Font

meri mummy, pyari mummy,
duniya bhar se nyari mummy.
Mamta ki Murat meri mummy,
Sundarta mai awwal meri mummy.
Meri Mummy sa nhi koi pyara,
Mai hun unka Raaj dulara.
Sab Se Sundar Sbse Acchi,
Sab se Alag hain Meri Mummy.

25 फलो के नाम | 25 fruits name |- click here

बच्चो के लिए हिन्दी कविता | short Hindi poem |

बच्चो के लिए छोटी छोटी कवितायेँ

short Hindi poem | बच्चो के लिए हिन्दी कविता |छोटे बच्चो के लिए हिन्दी कविता | छोटे बच्चो के लिए भालू , गुबारे जेसी छोटी छोटी कवितायेँ जो उनका मनोंरजन करेंगी साथ ही उनको अच्छी सिख भी देंगी | ऐसी ही और हिन्दी कविता पढने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें – हिन्दी पोएम

भालू बन्दर

छोटी सी मोटर के अंदर

आ बेठे भालू -बंदर |

कहते मोटर तेज़ चलाओ |

हमको ठंडी हवा खिलाओ |

गुब्बारा कविता | short Hindi poem |

भैया एक गुब्बारा लाया ,

भर कर हवा उसे फुलाया ,

उछल उछल कर उसे उड़ाया ,

उड़ा गुब्बारा हाथ न आया |

कोयल रानी

कोयल रानी , कोयल रानी

दाना खाकर पीती पानी |

देखो कितना मीठा गाती

सबको दिल को है बहलाती |

अच्छी आदत | बच्चो के लिए छोटी कवितायेँ |

काम सदा समय पर करना

खाना हो या पढना

सुबह जल्दी उठ जाना

और रात को जल्दी सो जाना |

बेंगन राजा

बेंगन राजा , बेंगन राजा

देखो कितना ताजा -ताजा |

सब्जी तेरी बनाएंगे

खाकर गोल मोल हो जायेंगे |

30 Birds name in Hindi & English with pictures-click here

छुट्टी कविता

छुट्टी का दिन आया है ,

सबके मन को भाया है |

आज न पढने जाएँगे ,

दिन भर शोर मचाएंगे |

इस website पर आपको बच्चो के लिए हिन्दी कहानियां , english stories , हिन्दी पोएम , rhyming , आदि बच्चो के लिए सभी तरह की चीज़े लिखी गई हैं | आपको यह पोएम केसी लगी कमेंट करके ज़रूर बताएं | आपको किस तरह की कविता या कहानी चाहिए यह भी हमे कमेंट करके ज़रूर बताएं |


बच्चो के लिए छोटी छोटी कवितायेँ | Hindi Poem |

बच्चो के लिए छोटी छोटी कवितायेँ

बच्चो के लिए छोटी छोटी कवितायेँ | Short Hindi poem for children | | 4 लाईन की छोटे बच्चो के लिए हिन्दी कविता | हिन्दी पोएम आसान व सरल शब्दों मे लिखी गई जिसको बच्चो जल्दी से याद कर लें और स्कूल मे आसानी से सुनाएँ |

कोयल रानी पोएम (Poem )

कोयल रानी कोयल रानी

दाना खा कर पीती पानी |

देखो कितना मीठा गाती

सबके मन को है बहलाती |

मेरी गुडिया (बच्चो के लिए छोटी छोटी कवितायेँ )

ये है मेरी गुडिया रानी

मुझसे सुनती रोज़ कहानी

खाती रोटी पीती पानी

कभी नही करती शेतानी |

बिल्ली मोसी short poem

बिल्ली मोसी , बिल्ली मोसी ,

कहो कहाँ से आई हो |

कितने चूहे मारे तुमने

कितने खा कर आई हो |

To Read more Hindi poem click here

छुट्टी का दिन आया है कविता (short Hindi Poem)

छुट्टी का दिन आया है ,

सबके मन को भाया है |

आज न पढने जाएँगे ,

दिन भर शोर मचाएंगे |

चिडिया पोएम (बच्चो के लिए छोटी छोटी कवितायेँ )

ची -ची करती चिड़िया रानी

बड़े सवेरे आ जाती है ,

दादी के हाथो से दाना ,

चुग कर फुर्र से उड़ जाती है |

लालची कुत्ता हिन्दी पोएम (Hindi poem )

एक कुत्ता था लालची ज्यादा

मुहं मे रख कर रोटी भागा

नदी के पुल पर जब वो आया

उसने देखी अपनी छाया

छाया देख कर समझी बुद्धू

क्योँ ना में इसकी रोटी छीनूँ

रोटी के लिए जब लगाई छलांग

नदी में गिर गया बुद्धू राम |

हमारी website पर आने के लिए धन्यवाद आपको यह पोस्ट केसी लगी कमेंट करके ज़रूर बताएं और ऐसी ही स्टोरी पोएम आदि के लिए हमारी और पोस्ट ज़रूर देखें |

The problem of Unemployment in India-क्लिक करें