घोटालो की दुनिया – Corruption Hindi poem

ghotalo ki duniya- Corruption Hindi poem

घोटालो की दुनिया – Corruption Hindi poem | चारो तरफ घोटालो का बोल बोला है इसी के ऊपर कुछ पंक्तियाँ हमने लिखी है | motivational पोएम , पेड बचाओ पोएम आदि पढने के लिए क्लिक करें – shayari

घोटालो की दुनिया | corruption Hindi Poem |

घोटालों का चित्र तुम्हे भी आज बताने आया हूँ

सोया भारत क्योँ न जागा उठो जगाने आया हूँ

सोने की चिड़िया देश हमारा कहा कभी ये जाता था

सोना लूटा नेताओ ने , चिड़िया को मरवाया था

बच्चो जेसे खेल खिलाये राजनीति के नाम पर

सत्ताधारी सत्ता लूटे भगवान तेरे नाम पर

सवतंत्र भारत को लूटा तुमने , घोटालो में नाम दिया

भारत माँ की छाती पर ही, तुमने नंगा नाच किया

अगर देश में नेता न हो , तो आधा देश बर्बाद है

बिगड़ा नेता यहाँ मिला तो, भारत का सत्यानाश है |

भूखे नंगे लोग यहाँ पर , पहले करते थे चोरी ,

नेताओ की कोन भूख है, भरते रहते नित बोरी

आचरण न पावन जिसका , केसा नेता आया है

घोटालों में आज बंधुओ, भारत ने नाम कमाया है

माल मलीदा खा खा फटके, पेट सदा ही भरते हो

गरीब बेचारा भूखा मरता उसका ध्यान न धरते हो

किसने गायों का चारा खाया, किसने शक्कर मारी है |

अरे नेता जी ! हमे बता दो आगे क्या तेयारी है |

इस देश का मेरे क्या होगा ? | Ghotalo ki duniya |

जहाँ रक्षक, भक्षक बन जाये

उस, देश का मेरे क्या होगा ?

जहाँ देश नेता बन जाये , उस देश का मेरे क्या होगा

दम तोड़ रही मानवता

आतंक के सख्त शिकंजे में ,

जहाँ भ्रष्टाचार की जय होती , उस देश का मेरे क्या होगा

कैदी की आंख फोड़ रहे ,

अबला की अस्मत लूट रहे

नारी को जिंदा जलाकर

केवल धन दोलत के खातिर

जहाँ ऐसे नर पिशाच बसें , उस देश का मेरे क्या होगा

मजदूरों का शोषण कर करके

पूंजीवादी फल फूल रहे

जहाँ बसे ऐसे कर्णधार हो उस देश का मेरे क्या होगा |

Hindi poetry on life-Zindagi Ek paheli

poem on life

Hindi poetry on life – ज़िन्दगी एक पहेली

ये जिंदगी भी अजीब है | Poetry on Life

ये जिंदगी भी अजीब है
ये क्या है मुझे क्या पता
ये क्योँ है मुझे क्या खबर

कुछ दिनों की चमक धमक
कुछ दिनों की गम ज़दा
कभी खुशी हुई तो कभी रो पड़ी
कभी इस पहर तो कभी उस पहर


इस मुक्कमल जहान में भी
पुरसुकून की तलाश थी
कभी बोल केर वो चुप रही
कभी चुप होकर भी बोल पड़ी

चंद लम्हो में भिखर गयी
चंद लम्हो में उभर गयी

चन्द लम्हों में निखर गयी
ये जिंदगी भी अजीब है
ये क्या है मुझे क्या पता
ये क्यों है मुझे क्या खबर

कभी छीन कर वो ले गई
कभी देकर भी वो चली गई

कभी उन शोहरतों पर ले गयी
कभी जिल्लतों पर उतार गयी
चलो शिकवा नहीं करू कभी

मुख़्तसर सा ही अख्तीयार है

ये जिंदगी भी अजीब है
ये क्या है मुझे क्या पता
ये क्योँ है मुझे क्या खबर

कभी हिम्मत भी दिला गयी

और बुजदिलों से भी मिला गयी

खुद को ना मिटा ज़रा ये बात भी वो कह गयी

पाया जब खुद को तनहा तो समझ भी वो दिला गयी

न रहेगा तेरा कोई तेरे खुदा के सिवा

ये बात भी वो बोल गयी

ये मुख़्तसर सी ज़िन्दगी है

कभी इस पहर तो कभी उस पहर

ये जिंदगी भी अजीब है
ये क्या है मुझे क्या पता
ये क्यों है मुझे क्या खबर

Zindagi Ek paheli

यूँ ही चलती रहती ज़िन्दगी

न होती गर्मी की बोछारे

न होती सर्दी की फुहारे

आम हो जाता आम आदमी का जीना

हल्दी सी पिली शक्लो पर छाई है केसे बेबसी

जम गया पानी भी आँखों का , रोने को केसी बेबसी

रोना किससे हसना किससे

कोन है दाता कोन सुनवाता

कोई न दुःख को हरने वाला

छोटी छोटी भेंट चढ़ाकर नाम कमाते आगे जाते

चमचम करती गाड़ी उनकी मुहं बनाती हंसती जाती

पत्ते से गिर कर खो जाते मिटटी में मिलकर रह जाते

खुश्की से सूखे होंटो पर हंसी भी डूबकर खो जाती

इतनी आबादी कोन गिने , कितने छूटे कितने गिरे

हँसना नन्ही सी कलियों , खा जाये धरती भूखी सी नज़रे

कह-कहकर थक गये सभी ,

रुका ना कुछ , ना कुछ हुआ है अभी

काश ! ज़िन्दगी बन जाये सपनो की रानी

फिर यूँ ही चलती रहे जिंदगानी |

happy birthday video status-birthday wishes

happy birthday video status | दोस्तों आपके साथ हम जन्मदिन की videos status share कर रहे हैं इनको आप आसानी से डाउनलोड कर सकते हैं | यह विडियो डाउनलोड करने के लिए आपको snaptube install करना होगा |

Happy birthday video status

Love Birthday wishes

हर लम्हे आपके होंटो पर मुस्कान रहे

हर गम से आप अनजान रहें

जिसके साथ महक उठे आपकी ज़िन्दगी

हमेशा आपके साथ वही इन्सान रहे …Happy Birthday

Happy birthday images
Happy birthday wishes images

birthday video status

Happy Birthday status video

जन्मदिन की शुभकामनायें

उगता हुआ सूरज आज दुआ दे आपको

खिलता हुआ गुलाब खुशबु दे आपको

हम तो कुछ खास देने काबिल नही हैं

देने वाला लम्बी उम्र दे आपको

Birthday wishes image
Birthday wishes images

Birthday wishes status with Photo

birthday wishes video with photo

Lovely birthday blessing

जन्मदिन पर आपके हम देते हैं ये दुआ

खुशियाँ आपके दामन से न हों कभी जुदा

खुदा की रहमतो में कभी कमी ने आये

आपके होंठो की ये मुस्कराहट न जाये …Happy Birthday

Lovely birthday wishes

आसमान की बुलंदियों पर नाम हो आपका

चाँद की धरती पर मुकाम हो आपका

हम तो रहते हैं छोटी सी दुनिया में ,

पर खुदा करे सारा जहाँ हो आपका …wish you a very happy birthday

ख़ुशी खुद ख़ुशी मांगे आपसे

ज़िन्दगी जिंदा दिली मांगे आपसे

इतना उजाला हो आपके मुकद्दर में

की चाँद भी रौशनी मांगे आपसे … wish you a very happy birthday

click here for more shayari & status

Motivation Poems in Hindi-Haar mat mano

Motivational Poem

Motivational Poems in Hindi | प्रेंरादायक हिन्दी कविता | shayari और insta status के लिए क्लिक करें – Shayari

Motivational Poem in Hindi | प्रेंरादायक हिन्दी कविता |

हम तो हम हैं

इस बात में कितना दम है

एक बार अपने को पहचान कर तो देखो

अन्दर छुपे शेर को निकालकर तो देखो

आप भी कहोगे , हम तो हम हैं

इस बात में कितना दम है |

अपने को कम और दुनिया को ज्यादा जानते हो

दुनिया को अपनी नज़र से

अपने को दुनिया की नज़र से पहचानते हो

एक बार खुद को , खुद की नज़रों से देख कर तो देखो

खुद भी कहोगे , हम तो हम हैं इस बात में कितना दम है |

प्रेंरादायक हिन्दी कविता | पीछे हटना नही

मुश्किल से कभी दोस्तों डरना नही |

लाख तूफान हों पीछे हटना नही |

दर्द साइन का तो है ज्यादा तेरा |

खुशियाँ होंगी सदा ये है वादा मेरा |

हिम्मतो से ए दोस्त आगे बढ़ते चलो |

मुश्किलों के in पहाड़ पे चढ़ते चलो |

मन में विश्वास और कुछ भी करना नही |

लाख तूफान हो पीछे हटना नही |

कुछ की ममता को बदल उड़ा ले गया |

कुछ का सिंदूर सावन बहा ले गया |

आँख तो फिर भी नाम रहेगी सदा उनकी यहाँ |

फिर भी तनहा अपने को समझना नही |

लाख तूफान हो पीछे हटना नही |

ज्योत से ज्योत दिल की जलाते रहो |

प्रेम दुसरे पर लुटाते रहो |

कंधो पे बोझ लाख हो गिरना नही |

लाख तूफान हो पीछे हटना नही |

Motivational Poems in Hindi | प्रेरक कवितायें

प्रेंरादायक हिन्दी कविता |
Motivational POEM

लक्ष्य नही जिनके जीवन का

वो ऐसे ही रह जाते हैं

जेसे लाखो हजारो पत्ते , दरिया में बह जाते हैं

सफलता उन्ही को मिलती है

जिनके सपनो में जान होती है

पंख से कुछ नही होता

होंसले से उड़ान होती है

कोन पुहंचा है अपनी आखरी मंजिल तक

हर किसी के लिए थोडा आसमान बाकी है

ये तुझको लगता है तू उड़ान के काबिल नही

जज़्बा कहता है तेरे पंखो में उड़ान बाकी है

निराशो में आस पैदा करता है

दिलो में विश्वास पैदा करता है

मिटटी की तो बात अलग है

ईश्वर तो पत्थरों में कोमल घांस पैदा करता है |

Motivational Poem in Hindi | प्रेंरादायक हिन्दी कविता |

Motivational Poem Hindi
Motivational Poem Hindi

जो करना था वो नही किया

क्योँ कर्म से कतराते हो

खुद दूर खड़े हो मंजिल से

और मंजिल दूर बताते हो

जब चले वक़्त के साथ नही

फिर पीछे क्योँ पछताते हो

बीत रहे हो खुद ही तुम

और बीता वक़्त बताते हो |

तुम न दे पाए पहचान कोई

तुम मस्त रहे हो अपने में

भोगो ने तुमको भोग लिया

तुमने भोग क्योँ बतलाते हो |

इसलिए उठो और उठ कर चल दो

उठकर ही कुछ कर पाओगे

पहुँचोगे जल्दी मंजिल पर

और मंजिल दूर न पाओगे |

Save Trees Hindi Poem-Save Life

save tree poem

SaveTrees Hindi Poem| पेड़ो को मत काटना | पेड़ो को हमारे जीवन में बहुत महत्व है | पेड हमे शुद्ध हवा, जीने के लिए आक्सीज़न ,फल , छाँव ऐसी बहुत सारी चीज़े देते हैं फिर भी आज बहुत तेज़ी से पेड़ो की कटाई हो रही है | अगर हमे जीवन बचाना है तो पेड़ो को कटने से बचाना होगा | इसी पर एक छोटी सी कविता जो वनों का महत्व बताती है –

Save Tree Hindi Poem

पेड़ो को मत काटने देना, चिडियों को मत रोने देना ,

पड़ी हैं उनका रेन बसेरा , उसे कभी न उजड़ने देना |

हर शाखा पर हर पत्ती पर अपने अपने सोते है ,

शाखा कटने पर वे अपने शिशुओ सा रोते हैं |

पेड़ो के संग बढना सीखो , पेड़ो के संग खिलना ,

पेड़ो के संग-संग इतराना पेड़ो के संग हिलना |

बच्चे और पेड दुनियां को हरा-भरा रखते हैं

नही समझते जो इस सच को वो उसका फल चखते हैं |

वह भोले हैं जो हर दिन पेड़ो को काट रहे हैं

जहर फेफड़ो में भरकर बच्चो में बाँट रहे हैं |

Save Trees- Save Life

पेड़ो को मत काटना |वनों का महत्व |

क्या अपराध किया पेड़ो ने

पूछ सभी लो पेड़ो से

जिन पर आरी चला चला क्योँ

छाया छिनी पेड़ो से

प्रदूषण के विरुद्ध तरुनित

करते सदा लड़ाई

फिर भी प्यार मिला न उनको

होती खूब कटाई

देख पेड़ो को मानव के धन

घुमड़ घुमड़ घिर आते

धरती की प्यारी काया पर

शीतल जल बरसाते

निष्प्राण तरु को मत करो मानव

बर्बरता अपनाओ न

धरती के श्रृंगार तरु का

मानव वंश मिटाओ न

आक्सीजन के जनक तरुनित

मानव को हैं सुख पहुंचाते

ज़हरीली वायु का विष पी ,

‘भू’ पर हरित क्रांति late

तरु – पेड , भू – ज़मीन ,

हमे अगर जीवन बचाना है तो ज्यादा से ज्यादा पेड पोधे लगाने पड़ेंगे तभी हमे साँस लेने लायक हवा मिलेगी | हमारी और knowledge related पोस्ट पढने के लिए क्लिक करें – Knowledge